लम्हा.

हमारा हर लम्हा चुरा लिया आपने,
आंखो को एक चांद दिखा दिया आपने,
हमे जिंदगी तो दि किसी और ने,
पर प्यार इतना देकर जिना सिखा दिया आपने !

No comments:

होशियार कौवा.