दोस्ती मे दम.

तुझे देखे बिना तेरी तस्वीर बना सकता हू,

तुझे मिले बिना तेरा हाल बता सकता हू,

है मेरी दोस्ती मे इतना दम,

अपनी ऑंख का आंसु तेरी आंख से गिरा सकता हू ।

No comments:

होशियार कौवा.