खुशी.

तुम मुझे भुल कर तो देखो,
हर खुशी रुठ जाएगी,
जब अकेले तुम बैठोगी,
खुद-ब-खुद मेरी याद आएगी.

No comments:

होशियार कौवा.